झीलों से सराबोर करने वाले नैनीताल के 30 दर्शनीय स्थल की यात्रा करें


उत्तराखण्ड राज्य के कुमाऊँ क्षेत्र का मुख्य पर्यटन स्थल नैनीताल को झीलों का शहर कहा जाता है। कल्पना कीजिए एक ऐसी जगह की जो पहाड़ों पर स्थित हो और हर तरफ से झीलों से घिरी हो। बर्फ से ढके पहाड़ जो आपको प्राकृतिक सौंदर्य में सराबोर कर देंगे। नैनीताल दर्शनीय स्थल आपको एक ऐसे माहौल के दर्शन कराऐंगे जो आपको मंत्र मुग्ध कर देंगे, जैसे आप एक अनोखे स्थान के निवासी हों। इतना खूबसूरत नज़ारा शायद ही आपको कहीं देखने को मिले।

30 नैनीताल दर्शनीय स्थल

झीलों से गिरता पारदर्शी जल आपकी आँखों को सुकून देगा। ताज़ी सरसराती हवा जब आपके चहरे को छूकर गुज़रेगी तब आप मन को लुभा लेने वाली ताज़गी का एहसास कर पाऐंगे। आइए चलते है नैनीताल भ्रमण पर जहाँ आपको केवल आनंद और उत्साह मिलेगा वो भी खूब सारी मात्रा में:

1. इको केव गार्डन

झूलते बगीचों एवं संगीतमय फव्वारों के लिए प्रसिद्ध यह गुफा 6 छोटी गुफाओं का मिश्रण है जिन्हें जानवरों के आकार में बनाया गया है। मुख्यतः ये नैनीताल दर्शनीय स्थल इसलिए बनाया गया है ताकि पर्यटकों को हिमालयी वन्यजीवों के प्राकृतिक वास की झलक से परिचय करवाया जाए। आपको अंदर जाने में थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है पर पेट्रोल से जलते लैंप आपको आकर्षित करेंगे। यहाँ की प्रचलित गुफाएँ हैं- टाईगर केव, पैंथर केव, ऐप्स केव, बैट केव और फ्लाईंग फॉक्स केव।

श्रेणी: साहसिक
स्थान: सूखाताल, मल्लीताल, नैनीताल, उत्तराखंड 263001
इको केव गार्डन किसके लिए प्रसिद्ध: पिकनिक और आराम
खुलने का समय: सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: वयस्कों के लिए 35 रुपये, बच्चों के लिए 25 रुपये

और जानें: Things To Do In Nainital

2. नैनी झील

सात अलग-अलग पर्वत की चोटियों से घिरी यह झील कुमाऊँ क्षेत्र की सबसे प्रसिद्ध झील है। अपने खूबसूरत नज़ारों के लिए मशहूर यह नैनीताल दर्शनीय स्थल लोगों के बीच पिकनिक का बहुत प्रचलित स्थान है जहाँ बैठकर आप ढलते सूरज की विलुप्त होती लालिमा को देख पाऐंगे। शाम के वक्त आप ऐसे सौंदर्य पूर्ण वातावरण का गमन भी कर सकते है जहाँ आप झील में विचरण करते बत्तखों को भी देख पाऐंगे। आप झील के पास स्थित नैना देवी मंदिर के दर्शन करके मन को और अधिक शांति भी प्रदान कर सकते हैं।

श्रेणी: फुर्सत
स्थान: अयारपट्टा, नैनीताल, उत्तराखंड
इको केव किसके लिए प्रसिद्ध: नौका विहार, पिकनिक
खुलने का समय: सभी दिन खुला
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: INR 100

3. मॉल रोड़

नैनी झील के सहारे बनी यह सड़क मल्लीताल व तल्लीताल को जोड़ती है। यहाँ आपको हर वक्त चहल-पहल का माहौल देखने को मिलेगा। उत्तराखण्डी संस्कृति व पारंपरिक स्वादिष्ट खाने का मिश्रण आपको यहाँ देखने को मिलेगा। खरीदारी के लिए भी यह उपयुक्त स्थान है जहाँ आपको सुंदर गर्म कपड़े आसानी से मिल जाऐंगे। तो फिर देर किस बात की है, आइए और नैनीताल को अपनी सेवा का अवसर दे दीजिए। नैनीताल के दर्शनीय स्थल में अगर आपने इस जगह को छोड़ दिया तो आप ज़रूर पछताऐंगे।

श्रेणी: खरीदारी
स्थान: मॉल रोड, नैनीताल, उत्तराखंड
मॉल रोड़ किसके लिए प्रसिद्ध: खरीदारी, प्रामाणिक शीतकालीन उत्पाद, स्ट्रीट फूड
खुलने का समय: सुबह 7 बजे से रात 10 बजे तक
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Honeymoon In Nainital

4. स्नो व्यू पॉइन्ट

दूध जैसी बर्फ से ढका हिमालय मन को लुभा लेनेवाला दृश्य आपकी आँखों के सामने ला देगा। इस नैनीताल दर्शनीय स्थल को देखकर आपका मन यकीनन नहीं भर पाएगा इसलिए इस मौका पर आप नैनीताल की फोटो लेना भूल ही नहीं सकते। समुद्र तल से 2270 मीटर ऊँचा यह बिंदु यात्रियों के बीच बेहद लोकप्रिय स्थान है। आपको ऐसा प्रतीत होने लगेगा कि हाथ ऊपर उठाते ही आपकी मुट्ठी में बादल कैद हो गए हों। आपके सामने होंगे ऊँचे बर्फीले पहाड़ और ऊपर होगी बादलों की सफ़ेद चादर, सोचकर ही मन गदगद हो रहा है।

श्रेणी: पर्यटन स्थलों का भ्रमण
स्थान: 7, माल्डोन कॉटेज रोड, मल्लीताल, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
स्नों व्यू पॉइन्ट किसके लिए प्रसिद्ध: बर्फ से ढकी पहाड़ियों, प्रकृति के दृश्य
खुलने का समय: सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक, शनिवार को बंद
घूमने की अवधि: 1 घंटा
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

5. टीफिन टॉप

नैनीताल के पर्यटन स्थल में शुमर यह जगह आपको पूरे नैनीताल का दृश्य दिखाएगी। चारों तरफ चीड़, ओक व देवदार से घिरा यह स्थल आपको खुशनुमा व शांति के वातावरण से रूबरू करवाएगा। अगर आप प्रकृति प्रेमी हैं तो आपको यहाँ भरपूर तसल्ली मिलेगी। तसल्ली भी ऐसी-वैसी नहीं, मन को आनंदमयी करने वाली। तो कोई क्यों यहाँ आना भूल सकता है और वैसे भी अगर आप यहाँ नहीं आए तो आपकी यात्रा अधूरी रह जाएगी। यह भी एक पिकनिक स्थल है और यहाँ कुछ रोमांचक कार्य भी किए जाते हैं जैसै पर्वतारोहण आदि तो आप इसे भूल तो सकते ही नहीं हैं।

श्रेणी: पर्यटन स्थलों का भ्रमण
स्थान: अयारपट्टा, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
टीफिन टॉप किसके लिए प्रसिद्ध: आश्चर्यजनक दृश्य, लंबी पैदल यात्रा, दर्शनीय स्थल
खुलने का समय: सभी दिन खुला
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: नि:शुल्क प्रवेश, घुड़सवारी और शूटिंग जैसी गतिविधियों के लिए शुल्क लिया जाएगा

और जानें: Places To Visit Near Nainital

6. नैना पीक

2615 मीटर की ऊँचाई के साथ यह नैनीताल की सबसे ऊँची चोटी है जो,सैलानियों के बीच आकर्षण का केंद्र है। साल भर बर्फ की चादर से ढके रहने वाले पहाड़ों को हरियाली युक्त पेड़ों ने घेरा हुआ है। तस्वीरें खींचने के शौकीन रखने वाले लोग यहाँ आकर अपनी इस इच्छा को पूरा कर सकते है। हाईकरों और ट्रैकरों के बीच यह स्थान बहुत प्रसिद्ध है। आप यहाँ अपने मित्रों के साथ या अपने साथी के साथ एक अच्छी छुट्टियाँ मना सकते है। सूर्योदय व सूर्यास्त के खूबसूरत नज़ारें देखने के लिए लोग यहाँ अकसर आते हैं।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: नैनीताल, उत्तराखंड 263001
नैना पीक किसके लिए प्रसिद्ध: ट्रैकिंग, अद्भुत दृश्य, मनोरंजन सवारी
खुलने का समय: सभी दिन खुला
घूमने की अवधि: 1 घंटा
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

7. पं.बल्लभ पंत ज़ू

विभिन्न प्रकार के पशुओं से लिप्त यह स्थान बहुत से जानवरों का निवास स्थान है जैसे-तेंदुआ, पहाड़ी लोमड़ी, भेड़िए, हिरन, हिमालयी काला भालू, सफ़ेद मोर और आदि। बहुत से विलुप्त होते पक्षियों को भी आप यहाँ से वहाँ पंख पसारते नज़र आऐंगे। 2100 मीटर की दूरी में फैला यह स्थान लंबे-लंबे घने पेड़ पशु-पक्षियों को रहने में सहायता करते हैं।

श्रेणी: वन्य जीवन
स्थान: तल्लीताल, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
पं.बल्लभ पंत ज़ू किसके लिए प्रसिद्ध: वन्य जीवन, दृष्टिकोण, प्रकृति
खुलने का समय: सुबह 9:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: INR 100

और जानें: Paragliding In Bhimtal

8. नैना देवी मंदिर

कहा जाता है कि इस जगह देवी सती के नेत्र गिरे थे इसलिए इस मंदिर का नाम नैना देवी रखा गया। हिंदुओं के प्रमुख तीर्थस्थलों में इसे भी शामिल किया गया है। यहाँ मौजूद पीपल का पेड़ शताब्दियों से लगा हुआ है जो लोगों में आकर्षण का केंद्र है। आप यहाँ आकर भक्ति में लीन हो सकते हैं। पहले मंदिर तक पहुँचने के लिए पैदल यात्रा करनी पड़ती थी पर अब यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए उड़नखटोलों की व्यवस्था की गई है ताकि श्रद्धालुओं को मुश्किल का सामना न करना पड़े।

श्रेणी: धार्मिक
स्थान: अयारपट्टा, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
नैना देवी किसके लिए प्रसिद्ध: शांतिपूर्ण माहौल, प्रार्थना, झील का दृश्य
खुलने का समय: सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक
घूमने की अवधि: 30 मिनट
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

9. ज्योलिकोट

नैनी झील का प्रवेश द्वार कहा जाने वाला यह स्थान मनमोहने वाला नैनीताल दर्शनीय स्थल है। तरोताजा़ फल-फूलों व कई प्रकार की तितलियाँ का निवास स्थान यही है। प्रकृति से प्रेम करने वालों का यहाँ स्वागत है। आप यहाँ आकर रंग-बिरंगी तितलियों की तस्वीरें अपने कैमरे में कैद कर सकते है। बच्चे भी यहाँ आकर खूब लुत्फ़ उठा पाऐंगे और अपने छोटे से अवकाश को यादगार बना पाऐंगे। इन तितलियों की तरह आपका मन भी बेफिक्र होकर झूम उठेगा और आपके मन में खुशी की तरंगें चलने लगेगी।

और जानें: Trekking In Uttarakhand: The 22 Greatest Treks That Will Leave You Mesmerized!

10. जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क

हरियाली, शांत वातावरण, पेड़ों से गुज़रती ताज़ी हवा और उनके बीच विलुप्त होते पशु-पक्षी, इन सभी का संगम आपको एक ही स्थान पर और एक ही समय पर मिलेगा। हैरान होने वाली बात बिल्कुल नहीं है क्योंकि यहाँ जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क की बात हो रही है। अगर आप अक्टूबर से फरवरी के दौरान यहाँ आते हैं तो आपको यहाँ कुछ अनदेखे पक्षी देखने को मिलेंगे जो आप यहाँ के अलावा और कहीं नहीं देख पाऐंगे। यह सुनहरा अवसर है इसे आसानी से हाथ से जाने मत दीजिए।

श्रेणी: वन्य जीवन
स्थान: नैनीताल जिला, रामनगर, उत्तराखंड 244715
जिम का प्रसिद्ध: रॉयल बंगाल टाइगर्स, सफारी, प्रकृति फोटोग्राफी, लंबी पैदल यात्रा
खुलने का समय: सुबह 6:30 से 10:00 बजे तक, दोपहर 1:30 से शाम 5:00 बजे तक (सफारी समय)
घूमने की अवधि: 3-4 घंटे
प्रवेश शुल्क: भारतीयों के लिए 200 रुपये, विदेशियों के लिए 1,000 रुपये

11. राजभवन

Image Source

उत्तर पश्चिम प्रांत के राज्यपाल के लिए निर्मित, यह वर्तमान में उत्तराखंड के राज्यपाल का निवास है और नैनीताल में घूमने के लिए सबसे शानदार स्थानों में से एक है। इसकी गॉथिक शैली की वास्तुकला बकिंघम पैलेस से प्रेरित थी। यह उत्तराखंड का दूसरा राजभवन है और इसमें सुंदर बगीचे हैं, जहां पर्यटक भारी मात्रा में घूमने आते है।
श्रेणी: इतिहास
स्थान: आमघरी, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
राजभवन किसके लिए प्रसिद्ध: गॉथिक वास्तुकला, फोटोग्राफी
खुलने का समय: सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक
घूमने की अवधि: 1 घंटा
प्रवेश शुल्क: प्रति व्यक्ति 50 रूपये,गोल्फ कोर्स के लिए 450 रुपये

और जानें: Best Resorts In Nainital

12. भीमताल झील

Image Credit: SHUVADIP for Wikimedia Commons

कई झीलों के बीच भीमताल, नैनीताल के पास घूमने के लिए सबसे शांत स्थानों में से एक है। भीमताल से नैनीताल की दूरी लगभग 24 किमी है, जिसे एक घंटे में तय किया जा सकता है। इसका नाम महाराष्ट्र के महान भीम के नाम पर रखा गया था। झील हरे-भरे पहाड़ों और इसके केंद्र में एक छोटे से द्वीप के बीच खूबसूरती से केंद्रित है। भीमताल प्रकृति के शानदार दृश्य प्रस्तुत करता है। इस क्षेत्र में घूमने के दौरान भीमताल में नौकायन करना न भूलें।

श्रेणी: फुर्सत
स्थान: भीमताल, उत्तराखंड
भीमताल झील किसके लिए प्रसिद्ध: केंद्र में पक्षी-दर्शन, नौकायन, मछलीघर
खुलने का समय: सुबह 10 बजे से रात 9:30 बजे तक
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: INR 150

13. बिनायक

Image Source: Shutterstock

नैनीताल आने वाले पर्यटकों के लिए हिमालय में सबसे प्रसिद्ध ट्रैकिंग स्थलों में से एक, बिनायक शानदार ट्रेल्स प्रदान करता है। यदि आप लंबी पैदल यात्रा के शौकीन हैं, तो बिनायक नैनीताल के पास घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है, जहां आप ऊंचे देवदार के पेड़ों के बीच घूम सकते हैं और प्रकृति की खूबसूरत नजारों का आनंद ले सकते हैं।

श्रेणी: साहसिक
स्थान: बिनायक ट्रेक, नैनीताल, उत्तराखंड
बिनायक किसके लिए प्रसिद्ध: लंबी पैदल यात्रा और ट्रैकिंग
खुलने का समय: हमेशा खुला, दिन के उजाले में जाना बेहतर होगा
घूमने की अवधि: 3-4 घंटे
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: 10 Road Trips From Jaipur That’ll Invoke Serious Wanderlust In You

14. गर्नी हाउस

Image Credit: Sabyasachi Paldas for Wikimedia Commons

गर्नी हाउस, नैनीताल जिले में स्थित एक ऐतिहासिक इमारत है और दिसंबर में नैनीताल के सबसे अच्छे पर्यटन स्थलों में से एक है। अब एक लक्जरी रिज़ॉर्ट, शिकारी-संरक्षणवादी और लेखक जिम कॉर्बेट का यह पूर्व निवास है, यह औपनिवेशिक सौंदर्य, नैनीताल झील के ठीक बगल में स्थित है, जो झील और उसके हरे-भरे परिवेश के शानदार दृश्य पेश करता है।

श्रेणी: फुर्सत
स्थान: अयारपट्टा, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
गर्नी हाउस किसके लिए प्रसिद्ध: औपनिवेशिक वास्तुकला और इतिहास, प्रकृति
खुलने का समय: सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: कोई शुल्क नहीं

15. सातताल

Image Credit: sushanta Mohanta Sindrani for Wikimedia Commons

2 दिनों में नैनीताल में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक, सातताल झील या सात ताल निचली हिमालय श्रृंखला में स्थित सात मीठे पानी की झीलों का एक परस्पर समूह है। यह उत्तराखंड में नैनीताल जिले के भीमताल शहर के पास स्थित है। वे नैनीताल के पास सबसे शानदार झीलें हैं, जो देवदार और ओक के जंगलों के अविश्वसनीय संयोजन के बीच हिमालय की चोटियों से घिरी हुई हैं और औपनिवेशिक बंगलों और कलात्मक चर्चों से युक्त हैं। इसमें कोई आश्चर्य नहीं कि इस छोटे से शहर को ‘भारत का झील जिला’ भी कहा जाता है।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: सातताल, छकाता रेंज, उत्तराखंड 263139
सातताल किसके लिए प्रसिद्ध: सुरम्य देवदार और ओक के जंगल, नौकायन, खरीदारी, ट्रैकिंग।
खुलने का समय: हमेशा खुला
घूमने की अवधि: 1-2 दिन
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Camping In Nainital

16. हनुमान गढ़ी

Image Credit: Pic lover for Wikimedia Commons

1950 में निर्मित, भगवान हनुमान को समर्पित यह पहाड़ी हिंदू मंदिर सूर्योदय और सूर्यास्त के खूबसूरत दृश्य प्रस्तुत करता है। शीर्ष नैनीताल आकर्षणों में से एक, हनुमान गढ़ी की स्थापना बाबा नीम करौली द्वारा की गई थी, जिसके शीर्ष पर भगवान हनुमान की एक सुंदर मूर्ति है जो दूर से आगंतुकों को आकर्षित करती है। समुद्र तल से 6,401 फीट की ऊंचाई पर स्थित, यहां पर सूर्यास्त का दृश्य शानदार लगता है। इसके अलावा यह यात्रियों के लिए आरामदायक सैर का आनंद लेने के लिए एक आकर्षक जगह है।

श्रेणी: धार्मिक
स्थान: हलद्वानी रोड, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
हनुमान गढ़ी किसके लिए प्रसिद्ध: सूर्योदय और सूर्यास्त के दृश्य, प्रार्थना, फोटोग्राफी
खुलने का समय: सुबह 5 बजे से दोपहर तक और शाम 4 बजे से रात 9 बजे तक
घूमने की अवधि: 1 घंटा
प्रवेश शुल्क: कोई प्रवेश शुल्क नहीं

17. लैंड्स एंड पिकनिक स्पॉट

Image Source

लैंड्स एंड नैनीताल जिले के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। लैंड्स एंड, नैनीताल में बारापत्थर के पास स्थित एक दृश्य बिंदु है, जो समुद्र तल से 2118 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह स्थान भव्य खुरपा ताल और मैदानी इलाकों का शानदार दृश्य प्रदान करता है। गाँव की बस्तियों और देवदार के जंगलों से घिरी यह झील ऊपर से अद्भुत दिखती है। जिज्ञासा पैदा करने वाला नाम, ‘लैंड्स एंड’ इस जगह के लिए उपयुक्त है क्योंकि यह मूल रूप से एक चट्टान है। यह स्थान भी नैनीताल में छुट्टियाँ बिताने के लिए आदर्श स्थानों में से एक है।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: बारापत्थर के पास, नैनीताल, उत्तराखंड 263001, भारत
लैंड्स एंड पिकनिक स्पॉट किसके लिए प्रसिद्ध: देवदार के जंगलों और झील के दृश्य, प्राकृतिक दृश्य।
खुलने का समय: हमेशा खुला
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: 10 Road Trips From Jaipur That’ll Invoke Serious Wanderlust In You

18. हिमालय व्यू पॉइंट

Image Source
नैनीताल से सिर्फ 5 किमी की दूरी पर स्थित, हिमालयन व्यू प्वाइंट का आश्चर्यजनक दृश्य कुछ ऐसा है, जिसे आप मिस नहीं कर सकते। यह एक ऐसी जगह है जहां से आप विशाल हिमालय पर्वतमाला को देख सकते हैं। यह नैनीताल के पास घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: किलबरी रोड, नैना रेंज, उत्तराखंड 263001
हिमालय व्यू पॉइंट किसके लिए प्रसिद्ध: पर्यटन और प्रकृति की सैर, लंबी पैदल यात्रा
खुलने का समय: हमेशा खुला, दिन के दौरान यात्रा करना बेहतर होगा
घूमने की अवधि: 2-3 घंटे
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

19. खुरपा ताल

Image Source

खुरपा ताल को नैनीताल और उसके आसपास घूमने के स्थानों की सूची में जरूर होना चाहिए। नैनीताल से सिर्फ 12 किमी दूर, 5500 फीट की ऊंचाई पर स्थित खुरपा ताल उत्तराखंड की सबसे खूबसूरत झीलों में से एक है। ऊँचे-ऊँचे पेड़ों और नीले पानी की विशेषता वाली यह झील नैनीताल के पास सबसे मनोरम स्थानों में से एक है। खुरपा ताल में मीठे पानी की मछलियाँ बहुतायत में पाई जाती हैं और इसका पानी बिल्कुल साफ है, जिसके कारण यह मछली पकड़ने के लिए भी एक आदर्श स्थान है। यह साफ-सुथरे स्थान नैनीताल में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: खुर्पाताल, उत्तराखंड 263001
खुरपा ताल किसके लिए प्रसिद्ध: ट्रैकिंग, लंबी पैदल यात्रा, नौकायन और सूर्यास्त के दृश्य
खुलने का समय: हमेशा खुला
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Places To Visit In Nainital

20. कैंची धाम

Image Source
नैनीताल के किनारे कैंची में स्थित एक धार्मिक तीर्थस्थल, यह नैनीताल के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है और नैनीताल में घूमने के लिए शीर्ष स्थानों में से एक है। यह एक भव्य मंदिर है, जो हनुमान मंदिर के लिए प्रसिद्ध है और हर साल देश भर से हजारों भक्तों को आकर्षित करता है।

श्रेणी: धार्मिक
स्थान: भवाली रेंज, उत्तराखंड 263132
कैंची धाम किसके लिए प्रसिद्ध: हनुमान पूजा, अद्भुत दृश्य
खुलने का समय: सुबह 6:30 बजे से शाम 6:30 बजे तक
घूमने की अवधि: 1 घंटा
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

21. नौकुचियाताल

Image Source
नैनीताल में स्थित एक सुरम्य झील, यह 175 फीट गहरी है और नैनीताल की सबसे गहरी झीलों में से एक है, जो हरे-भरे हरियाली और सुंदर इलाके से घिरी हुई है। झील प्राकृतिक सुंदरता से मंत्रमुग्ध होने और प्रकृति के बीच एक दिन बिताने के लिए एक आदर्श स्थान है क्योंकि यह शीर्ष नैनीताल पर्यटन स्थलों में से एक है। यह नैनीताल में कैंपिंग के लिए लोकप्रिय जगह है।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: नौकुचिया ताल, उत्तराखंड 263136
नौकुचियाताल किसके लिए प्रसिद्ध: अछूती प्रकृति, नौका विहार, मछली पकड़ना
खुलने का समय: सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक
घूमने की अवधि: 1-2 घंटे
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Villas In Nainital

22. सरियातल

Image Credit: Manikanta1973 for Wikimedia Commons

सरियाताल नैनीताल के सबसे प्राचीन जल निकायों में से एक है, यह एक छोटी सी झील है जो हरे-भरे हरे और सुरम्य परिदृश्य से घिरी एक सुंदर जलधारा से पोषित होती है। सरियाताल हिमालयन बॉटनिकल गार्डन के लिए भी प्रसिद्ध है, जिसमें देशी पौधों की दुर्लभ प्रजातियों की एक श्रृंखला है। यह भी नैनीताल की प्रसिद्ध जगहों में से एक है जिसे कोई भी मिस नहीं कर सकता।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: समनोरा रेंज, उत्तराखंड 263002
सरियातल किसके लिए प्रसिद्ध: दुर्लभ और विदेशी वनस्पति, नौका विहार, मछली पकड़ना
खुलने का समय: सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक
घूमने की अवधि: 1-2 घंटे
प्रवेश शुल्क: झील के लिए निःशुल्क प्रवेश, बॉटनिकल गार्डन के लिए 20 रुपये

23. पंगोट और किलबरी पक्षी अभयारण्य

Image Source: Shutterstock

पांगोट और किलबरी पक्षी अभयारण्य भारत के उत्तराखंड राज्य में स्थित एक प्रसिद्ध पक्षी दर्शन स्थल है। इन क्षेत्रों में निवासी और प्रवासी पक्षियों सहित विभिन्न प्रकार के पक्षी प्रजातियों को देखने के लिए यात्री आते हैं। पांगोट और किलबरी के आवासी जंगल और शांत वातावरण यहाँ पक्षी दर्शन और वन्यजीव फोटोग्राफी के लिए एक उत्कृष्ट स्थल बनाते हैं। यह निश्चित रूप से नैनीताल में देखने के लिए सबसे अच्छे पर्यटन स्थलों में से एक है। किलबरी ओक, देवदार और रोडोडेंड्रोन के हरे-भरे जंगलों से घिरा हुआ है।

श्रेणी: वन्य जीवन
स्थान: ग्राम पंगोट, बुधलाकोट, किलबरी रोड के माध्यम से, उत्तराखंड 263001
पंगोट और किलबरी पक्षी अभयारण्य किसके लिए प्रसिद्ध: दुर्लभ और लुप्तप्राय पक्षी प्रजातियाँ, प्रकृति, ट्रैकिंग
खुलने का समय: सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक
घूमने की अवधि: 2 घंटे
प्रवेश शुल्क: INR 20

और जानें: Fascinating Hotels in Nainital on Mall Road

24. कॉर्बेट फॉल्स

Image Source
कॉरबेट झरना उत्तराखंड, भारत में नैनीताल के पास स्थित एक चित्रस्वरूप झरना है। इसका नाम मशहूर वन्यजीव संरक्षक और लेखक जिम कॉरबेट के नाम पर रखा है। यह झरना हरे-भरे जंगलों से घिरा होता है और यह एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यहाँ के आग्रहक नैसर्गिक सौंदर्य, शीतल और ताजगी वाले पानी और एक शांत वातावरण का आनंद ले सकते हैं। कॉरबेट झरना एक आरामदायक बाहर घूमने और प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेने के लिए एक शानदार स्थल प्रदान करता है और यह प्राकृतिक सौंदर्य के प्रेमियों और फोटोग्राफरों के लिए एक खूबसूरत जगह है।

श्रेणी: प्रकृति
स्थान: नैनीताल रोड, नयागांव जुल्फिकार, उत्तराखंड 263140
कॉर्बेट फॉल्स किसके लिए प्रसिद्ध: चित्र-परिपूर्ण परिवेश और पिकनिक स्पॉट
खुलने का समय: सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक
घूमने की अवधि: 1 घंटा
प्रवेश शुल्क: INR 30

25. रामगढ़

Image Source<
रामगढ़, उत्तराखंड के नैनीताल जिले में एक छोटा सा शहर है। यह एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है, जिसे फलों के बाग़, प्राकृतिक सौंदर्य और हिमालय के दृश्य के लिए जाना जाता है। अगर आप नैनीताल में पर्यटकों की भीड़-भाड़ से दूर जाना चाहते हैं तो आपको रामगढ़ की शरण लेनी चाहिए। यह मुक्तेश्वर के रास्ते में पड़ता है जहां आपको औपनिवेशिक काल के पुराने बंगले मिलेंगे। स्वामी रवीन्द्रनाथ टैगोर और नारायण स्वामी जैसे प्रसिद्ध कवियों ने अपने लेखन पर काम करने के लिए यहां शरण ली थी। तो, आप कल्पना कर सकते हैं कि इस जगह का लोगों पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

श्रेणी: फुर्सत
स्थान: उत्तराखंड
रामगढ़ किसके लिए प्रसिद्ध: शांति, प्रकृति प्रवास, प्रकृति की सैर, लंबी पैदल यात्रा, सेब के बगीचे
खुलने का समय: हमेशा खुला
घूमने की अवधि: 2-3 दिन
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Trekking Near Nainital

26. पियोरा

Image Source

पेओरा, उत्तराखंड के नैनीताल जिले में एक छोटा सा गाँव है। यह गाँव भारतीय हिमालय की खूबसूरत प्राकृतिक वातावरण में स्थित है और पर्यटकों के बीच मशहूर है। यहाँ की जनसंख्या के अधिकांश हिन्दू हैं और यहाँ पर हिन्दू मंदिर और स्थानीय संस्कृति के प्रतीक मौजूद हैं।

श्रेणी: पर्यटन स्थलों का भ्रमण
स्थान: उत्तराखंड 263138
पियोरा किसके लिए प्रसिद्ध: शांति, ग्रामीण जीवन, फोटोग्राफी, लंबी पैदल यात्रा, भोजन
खुलने का समय: हमेशा खुला
घूमने की अवधि: 1-2 दिन
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

27. सेंट जॉन इन द वाइल्डरनेस चर्च

Image Source

सेंट जॉन वाइल्डरनेस चर्च, नैनीताल, उत्तराखंड में स्थित है। यह एक प्राचीन चर्च है जो नैनीताल के प्राकृतिक सौंदर्य के आसपास स्थित है। यह एक महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल भी है और यहाँ के धार्मिक महत्व के साथ हिन्दू और ईसाई धर्म के अनुषार कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। कोलकाता के एक बिशप ने अपना आधा जीवन यहीं बिताया और जॉन द बैपटिस्ट के सच्चे अनुयायी होने के कारण चर्च को इसका नाम मिला। आज की तारीख में कई इतिहास प्रेमी और बैकपैकर इसे देखने आते हैं।

श्रेणी: इतिहास
स्थान: नैनीताल – कालादुंगी रोड, शेरवानी, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
सेंट जॉन इन द वाइल्डरनेस चर्च किसके लिए प्रसिद्ध: नव-गॉथिक वास्तुकला और आंतरिक सज्जा, इतिहास, प्रकृति
खुलने का समय: सुबह 7 बजे से शाम 6:30 बजे तक, रविवार: सुबह 9 बजे से शाम 6:30 बजे तक
घूमने की अवधि: 45 मिनट
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Guest Houses In Nainital

28. इंडियन अस्त्रोनोमिकल ऑबसर्वेट्री

Image Source

मनोरा पीक के शीर्ष पर स्थित, आर्यभट्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ ऑब्जर्वेशनल साइंसेज या खगोलीय वेधशाला, नैनीताल में जाने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है। कोई रात में तारे, चंद्रमा और आकाशीय पिंड देख सकता है लेकिन इस वेधशाला की ओर जाने से पहले आपको पूर्व बुकिंग करानी होगी। यह केवल कार्य दिवसों पर खुला रहता है ताकि जनता इसे किसी भी समय देख सके और रात में देखने के लिए पूर्णिमा के दौरान कुछ दिन तय किए जाते हैं लेकिन इसमें शामिल होने के लिए पहले से अनुमति लेनी पड़ती है।

श्रेणी: साहसिक
स्थान: बेलुवाखान, उत्तराखंड 263002
इंडियन अस्त्रोनोमिकल ऑबसर्वेट्री किसके लिए प्रसिद्ध: अद्वितीय खगोल भौतिकी तकनीक
खुलने का समय: दोपहर 2 बजे से शाम 4 बजे तक, शाम 7 बजे से रात 9 बजे तक (शनिवार और रविवार को बंद)
घूमने की अवधि: 1 घंटा
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

29. पाषाण देवी मंदिर

Image Source

पाषाण देवी मंदिर, नैनीताल में स्थित है। यह मंदिर नैनीताल के प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों में से एक है और यहाँ के स्थानीय लोग और पर्यटक आकर्षित होते हैं। इस मंदिर का महत्व हिन्दू धर्म में महत्वपूर्ण है और यहाँ पर धार्मिक आयोजन और पूजा-अर्चना की जाती है।

श्रेणी: धार्मिक
स्थान: तल्लीताल, नैनीताल, उत्तराखंड 26300
पाषाण देवी मंदिर किसके लिए प्रसिद्ध: पहाड़ से मनोरम दृश्य
खुलने का समय: 24 घंटे खुला रहता है
घूमने की अवधि: 30 मिनट
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Churches In Nainital

30. जामा मस्जिद

Image Credit: Sushanta Mohanta Sindrani for Wikimedia Commons

नैनीताल में एक और प्रसिद्ध मंदिर जामा मस्जिद है, जो एक आकर्षक क्षेत्र में स्थित है। यह नैनी झील की ओर देखने वाली सबसे उल्लेखनीय इमारतों में से एक है और शांतिपूर्ण माहौल में नियमित प्रार्थना सेवाएं प्रदान करती है। इसका निर्माण वर्ष 1882 में ब्रिटिश काल के दौरान उनके मुस्लिम सैनिकों के लिए किया गया था। भव्य जामा मस्जिद इमारत सुंदरता को स्पष्ट करती है और वास्तुकला का एक उल्लेखनीय नमूना है। यह इस्लामी इमारत एकदम सफ़ेद रंग में रंगी हुई है और काले रंग की छटा के साथ तैयार की गई है।

श्रेणी: धार्मिक
स्थान: तल्लीताल, नैनीताल, उत्तराखंड 263002
जामा मस्जिद किसके लिए प्रसिद्ध: भव्य वास्तुकला
खुलने का समय: 24 घंटे खुला रहता है
घूमने की अवधि: 30 मिनट
प्रवेश शुल्क: निःशुल्क प्रवेश

और जानें: Homestays In Nainital

नैनीताल के पर्यटक स्थल आपको ऊँची पहाड़ियों जितना ऊँचा उठा देंगे, जहाँ आप अपने सपने को सच करते हुए उड़ान भर सकते है। चमकता हुआ साफ पानी जिसमें आप सूर्य की परछाई एकदम साफ देख पाऐंगे। यहाँ आपको नम्र स्वभाव वाले पहाड़ी लोग मिलेंगे जिनकी वाणी की मिठास आपको पल भर में अपना बना लेगी। यहाँ का प्राकृतिक वातावरण तो अच्छा है ही, सांस्कृतिक और सामाजिक वातावरण में भी कोई कमी नहीं है। आप यहाँ बेहद आरामदायक तरीके से अपनी छुट्टियाँ बिता सकते हैं फिर चाहे अपने परिवार के साथ आएं या फिर मित्रों के साथ। नैनीताल को अपनी खातिरदारी करने का एक मौका दीजिए,आपको यकीनन खुशी का अनुभव होगा। अपनी नैनीताल यात्रा के लिए ट्रैवल ट्राऐंगल से बुकिंग कीजिए।

हमारी संपादकीय आचार संहिता और कॉपीराइट अस्वीकरण के लिए कृपया यहां क्लिक करें।

Cover Image Source: Shutterstock

नैनीताल दर्शनीय स्थल के विषय पर अक्सर पूछे जानेवाले सवाल:-

नैनीताल के पास घूमने लायक जगहें कौन-कौन सी हैं?

कुछ शीर्ष आकर्षण स्थल है जो आपको नैनीताल में अवश्य घूमना चाहिए: 1. नैनीताल झील 2. नैना पीक 3. मॉल रोड 4. टिफिन टॉप 5. हाई एल्टीट्यूड चिड़ियाघर 6. लैंड्स एंड 7. भीमताल झील 8. किलबरी पक्षी अभयारण्य 9. कैंची धाम 10. नौकुचियाताल।

नैनीताल घूमने का सबसे अच्छा समय कौन सा है?

नैनीताल साल भर घूमने वाला गंतव्य है और विभिन्न मौसमों के दौरान यहां अलग-अलग अनुभव मिलते हैं। चिलचिलाती गर्मी से बचने के लिए गर्मियों के दौरान या सर्दियों के मौसम में बर्फबारी का आनंद लेने के लिए आप यहांं घूमने के लिए आ सकते है।

मैं नैनीताल में 3 दिन कैसे बिता सकता हूँ?

यदि नैनीताल यात्रा के लिए योजना बना रहे हैं। तो यहां पर काफी जगहें है जहां पर घूमने का आनंद ले सकते है: पहले दिन, आप हनुमान गढ़ी मंदिर, नैनी झील, राजभवन, नैना देवी मंदिर और गुफा उद्यान देख सकते हैं। अगले दिन नाश्ते के बाद किलबरी पक्षी अभयारण्य, सरियाताल और खुर्पाताल झीलों की ओर जा सकते है। अगले दिन आप घुड़सवारी, नौकायन और ट्रैकिंग का भी आनंद ले सकते हैं। तीसरे दिन को खरीदारी और स्थानीय दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए रखें। मॉल रोड की यात्रा करना और कुछ स्मृति चिन्ह लेना न भूलें।

क्या नैनीताल में बर्फबारी होती है?

हाँ, नैनीताल में आमतौर पर दिसंबर के अंत या जनवरी में बर्फबारी होती है। इसलिए, यदि आप बर्फबारी देखना चाहते हैं, तो इस दौरान अपने प्रियजनों के साथ छुट्टियों की योजना बना सकते है।

नैनीताल में आउटडोर गतिविधियों का आनंद कैसे लें?

नैनीताल में आउटडोर गतिविधियों का आनंद लेने के लिए आप निम्नलिखित गतिविधियों का आयोजन कर सकते हैं: 1. ट्रेकिंग: नैनीताल वादियों, पहाड़ियों और वन्यजीवों की अद्वितीय दुनिया की ओर जाने के लिए अद्वितीय ट्रेकिंग अवसर प्रदान करता है। 2. बोटिंग: नैनीताल के झीलों में बोटिंग का आनंद लें, जैसे कि नैनीताल झील और खुरपाताल झील। 3. पैराग्लाइडिंग: नैनीताल के पास कुछ अद्वितीय पैराग्लाइडिंग स्थल हैं, जो आपको आसमान में उड़ने का मौका देते हैं। 4. वन्यजीव सफारी: कॉर्बेट्ट नेशनल पार्क नैनीताल के पास है, जहाँ आप वन्यजीवों के साथ सफारी कर सकते हैं।

और पढ़ें:-




Source link

Related Posts

Leave a ReplyCancel reply